Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

Kamalnath की मंत्री का छलका दर्द, बोलीं- अपनी ही सरकार में हमारी कोई नहीं सुन रहा

Guna. Madhya Pradesh में Kamal Nath सरकार के कई मंत्री अफसरशाही और अपने काम नहीं होने का दर्द बयां कर चुके हैं. जबकि हाल ही का मामला प्रदेश की महिला एंव बाल विकास मंत्री इमरती देवी (Woman and Child Development Minister Imarti Devi) से जुड़ा है. इन दिनों तबादला कराने को लेकर एक Video Viral हुआ है, जिसमें Congres विधायक प्रभारी मंत्री इमरती देवी से गुहार लगाते हुए दिखाई दे रहे हैं. करीब 40 Second के Video को खुद Congress के कार्यकर्ता ने ही बनाया है और फिर उसे Viral कर दिया गया। 
MLA Jajpal Singh Jajji ने कही ये बात
दरअसल, महिला एंव बाल विकास मंत्री Imrati Devi दो दिवसीय दौरे पर जब Guna पहुंचीं तो 'आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम' के दौरान उनसे मिलने पड़ौसी जिले से कांग्रेसी विधायक जजपाल सिंह जज्जी (MLA Jajpal Singh Jajji) भी पहुंचे. जबकि विधायक के साथ Ashoknagar जिले के Congress अध्यक्ष भी मौजूद थे.

भले ही हम मंत्री हैं लेकिन...
विधायक Jajpal Singh Jajji ने मंत्री Imrati Devi से शिकायत करते हुए कहा कि एक छोटा सा ट्रांसफर कराने के लिए पिछले 6 महीने से भटक रहे हैं. अपनी ही Sarakaar में तबादले होना मुश्किल है कोई भी काम नहीं हो रहा. इस पर मंत्री Imrati Devi ने हवाला देते हुए कहा कि भले ही हम मंत्री हैं लेकिन हमारी भी कोई नहीं सुन रहा, बताया जा रहा है Jajpal Singh और Congress जिलाध्यक्ष Vinita Sharma जोकि Rajgarh जिले में बतौर CDPO के पद पर पदस्थ हैं उनका तबादला Narsingarh कराने के लिए पहुंचे थे. Imrati Devi महिला बाल विकास मंत्री हैं और तबादला भी उन्हीं से संबंधित था इसलिए विधायक जज्जी ने गुना पहुंचकर उनसे शिकायत की.

फिलहाल, इस मामले में Imrati Devi ने कहा कि उन्होंने तो तबादला करवा दिया है, लेकिन मामला खुद मुख्यमंत्री के पास अटका हुआ है इसमें वो कोई मदद नहीं कर सकती हैं. इस मामले में जब Ashoknagar विधायक जजपाल सिंह जज्जी से चर्चा की गई तो वे साफ़ तौर पर मुकर गए. विधायक ने कहा की Ashoknagar जिले के प्रभारी मंत्री Mahendra Singh Sisodia हैं और उन्हें वे 'आपकी सरकार आपके द्वार' कार्यक्रम के लिए आमंत्रित करने Guna पहुंचे थे. वैसे M.P. की राजनीति में Transfers को लेकर जारी उठापटक किसी से छिपी नहीं है. ऐसे में एक मंत्री का ये कहना, 'उनकी नहीं चल रही' Kamalnath सरकार के लिए बेहद गंभीर मामला हो सकता है.

Post a Comment

0 Comments