Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

Unlock-4: मध्य प्रदेश में लॉकडाउन समाप्त, 100 प्रतिशत क्षमता के साथ खुलेंगे कारखाने, आवाजाही पर प्रतिबंध खत्म

मध्य प्रदेश में कंटेनमेंट जोन को छोड़कर अनलॉक-4 में कोई प्रतिबंध नहीं रहेगा। यह जानकारी प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने रविवार को दी है।

गृह मंत्री ने कहा, “रविवार को लॉकडाउन को वापस लेने का फैसला केंद्रीय गृह मंत्रालय के दिशानिर्देशों के मद्देनजर लिया गया है। केवल प्रतिबंध क्षेत्रों में लॉकडाउन लागू हो सकता है। अगर केंद्र की सहमति के बिना किसी अन्य क्षेत्र में कोई लॉकडाउन लगाया जाता है तो संबंधित अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।”

नरोत्तम मिश्रा ने कहा, “मध्य प्रदेश अंदर या किसी अन्य राज्य से मध्य प्रदेश में आवाजाही पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा। किसी भी ई-पास या परमिट की कोई आवश्यकता नहीं होगी।”

अब रविवार को भी नहीं होगा लॉकडाउन, सलाह के लिए स्कूल जा सकेंगे छात्र
मध्य प्रदेश में अब रविवार को भी लॉकडाउन नहीं होगा। यह निर्णय शिवराज सरकार ने सोमवार को अनलॉक-4 की गाइडलाइन के आधार पर लिया है। सभी कारखानों में अब पूरी क्षमता के साथ काम हो सकेगा। 21 सितंबर से 9वीं से 12वीं तक के छात्र शिक्षक से सलाह लेने के लिए स्कूल जा सकेंगे। गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि अगर कहीं लॉकडाउन की नौबत आई तो केंद्र की अनुमति से उसे कंटेनमेंट जोन तक सीमित रखा जाएगा।

धार्मिक स्थल, मॉल आदि पूरी तरह से खुल गए हैं। 21 सितंबर से एयर थियेटर खुल जाएगा। कंटेनमेंट जोन को छोड़कर कक्षा 9 से 12 तक के छात्र 21 सितंबर से शिक्षकों से मार्गदर्शन लेने के लिए स्वेच्छा से स्कूलों में जा सकते हैं। 21 सितंबर से सामाजिक और राजनीतिक समारोहों, रैलियों और खेल आयोजनों पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा लेकिन किसी भी सभा में 100 से अधिक व्यक्ति नहीं होंगे।”

आज (1 सितंबर) से कई नियम बदलने जा रहे हैं, जो आपकी जेब पर सीधा असर डालेंगे।

1. LPG सिलेंडर के दाम में बदलाव 2. महंगा होगी फ्लाइट यात्रा

3. बढ़ेगा EMI का बोझ, खत्म होगा मोरेटोरियम

4. शेयर बाजार में पैसा लगाने वालों के लिए बदले

नियम

5. शुरू होगी इंडिगो एयरलाइन्स की उड़ानें

6. GST देनदारी अदा करने में देरी पर लगेगा 18%

ब्याज

सराकारी आदेशों की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा, "स्विमिंग पूल और सिनेमा हॉल 30 सितंबर तक बंद रहेंगे। पीजी कॉलेज और पीएचडी कराने वाले कॉलेज केंद्र सरकार से आदेश लेकर संस्थान चला सकते हैं।"

Post a Comment

0 Comments