Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

डिजिटल स्क्रीन से आंखों को बचाने के लिए आजमाएं ये टिप्स

 आज की डिजिटल दुनिया में ज्यादातर लोग हर दिन अपने डेस्कटॉप, लैपटॉप या मोबाइल के सामने बहुत समय बिताते हैं। यह बेहद जरूरी है, कि उपयुक्त चश्मा लगाकर आंखों को ब्लू रेज के हानिकारक प्रभावों से बचाया जाए।

ब्लू लाइट क्या है ?

ब्लू लाइट में विजिबल स्पेक्ट्रम की सबसे कम वेबलेंथ होती है। सूरज की रोशनी नीले प्रकाश का मुख्य स्रोत है। हमारे घरों और सार्वजनिक जगहों पर इस्तेमाल होने वाली फ्लोरोसेंट बल्ब और एनर्जी एफिशिएंट लाइट्स जैसे LED भी नीली रोशनी के स्रोत हैं।

अपनी दृष्टि को कैसे सुरक्षित करें?

अपनी दृष्टि को सुरक्षित रखने के लिए आप एंटी-रिफ्लेक्टिव कोटिंग वाले स्पेशल ग्लेयर रिड्यूसिंग ग्लास यूज कर सकते हैं। इसके अलावा, अगर आप निकट या दूर दृष्टि दोष से परेशान हैं, तो आपको अपने ऑप्टिशियन से उस तरह के लेंस के बारे में सलाह लेनी चाहिए, जो आपकी दृष्टि को बेहतर बनाए।


क्यों आपको ब्लू रे प्रोटेक्शन ग्लासेज यूज करना चाहिए, 3 वजहें

1.  नीली रोशनी को नींद के पैटर्न को बाधित करने के लिए जिम्मेदार माना जाता है, क्योंकि, ये मेलाटोनिन को नियंत्रित करती हैं। हालांकि एक हालिया अध्ययन ने इसके विपरीत तर्क दिया है। सोते वक एक अच्छी नींद के लिए लाइट के एक्सपोजर को कम करना जरूरी है, और ब्लू लाइट ब्लॉकिंग ग्लास आपको ऐसा करने में मदद कर सकते हैं।

2.  डिजिटल डिवाइस से आने वाली लाइट, ब्लू रेज के कई स्रोतों में से एक है। हालांकि इन उपकरणों से आने वाला प्रकाश आपकी आंखों को सीधा नुकसान नहीं पहुंचाता है, लेकिन इसके एक्सपोजर को कम करना नींद से जुड़ी समस्याओं से बचने के लिए बेहतर होगा। कई डिवाइस ऐसे हैं, जो फिल्टर के साथ आते हैं। हालांकि, आप अपनी आंखों की सुरक्षा के लिए एम्बर-टिंटेड या यलो-टिंटेड लेंस इस्तेमाल कर सकते हैं।


3.  कंप्यूटर या लैपटॉप जैसे किसी भी डिजिटल उपकरण के सामने आप जितना ज्यादा समय बिताएंगे, सिरदर्द, आई स्ट्रेन और ब्लरी विजन का जोरी उतना ज्यादा होगा। ब्लू रे-ब्लॉकिंग ग्लासेज ऐसी बीमारियों को होने से रोक सकते हैं।

Post a Comment

0 Comments