Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

R नंबर क्या है और भारत के लिए इसके क्या मायने हैं

 R नंबर क्या है?

R नंबर रेटिंग कोरोना वायरस या किसी बीमारी के फैलने की क्षमता पहचानने का एक तरीका है। R उन लोगों की संख्या है जो औसतन एक संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आएंगे।


उदाहरण

बिना इम्युनिटी वाली आबादी में कोविड-19 का R नंबर 15 है। इसका मतलब है कि औसतन एक व्यक्ति कोविड-19 को 15 अन्य लोगों तक फैलाएगा।

R किसका प्रतिनिधित्व करता है

सरल शब्दों में R को रिप्रोडक्शन नंबर के रूप में जाना जाता है। यह RO या n R naught. Rt, रिप्रोडक्शन इफेक्टिव नंबर या केवल R इफेक्टिव द्वारा भी दर्शाया जाता है।

RORRT

R nought R Effective

Effective Reproduction Number

R वैल्यू महत्वपूर्ण क्यों है?
R वैल्यू मायने रखती हैं क्योंकि इसके 1 से ऊपर होने का मतलब है कि महामारी तेजी से फैलेगी, जबकि 1 से नीचे का मतलब यह नहीं बढ़ रही हैं और रोग अंततः फैलना बंद कर देगा।

भारत में R वैल्यू
भारत में R वैल्यू पिछले साल नवंबर के अंत से कई हफ्तों के तक 1.0 से नीचे थी, जो स्वागत योग्य खबर थी क्योंकि इससे नए कोविड मामलों में तेजी से गिरावट का अनुमान लगाया गया था। यही वजह थी कि सितंबर 2020 में दैनिक नए केसों की संख्या 90,000 से घटकर फरवरी, 2021 के पहले दो हफ्तों में लगभग 10,000 रह गई।

भारत में वर्तमान R वैल्यू
वर्तमान में भारत में सक्रिय मामलों की संख्या बढ़ रही है। 22 मार्च, 2021 की रिपोर्ट के अनुसार पिछले सप्ताह में 150% स्पाइक के साथ सक्रिय मामलों की संख्या लगभग 3,34,000 थी। पिछले तीन दिनों में इन नए मामलों में से लगभग 1,32,000 का पता चला है, प्रत्येक 24 घंटे की अवधि में 40,000 से अधिक केस दर्ज हुए हैं।

चौंकाने वाले आंकड़े
महामारी के शुरुआती दिनों के दौरान, मार्च और अप्रैल में, देश में Rt वैल्यू 2 से अधिक थी। भारत में R रेट 22 मार्च, 2021 को 1.32 पर पहुंच गई, जो पिछले साल अप्रैल के बाद से उच्चतम है। इसका मतलब है कि भारत में मामले तेजी से बढ़ रहे हैं और फैल रहे हैं।

क्या किया जाना चाहिए?
महाराष्ट्र, केरल, पंजाब, कर्नाटक, गुजरात, मध्य प्रदेश जैसे राज्य नए संक्रमण में वृद्धि दर्ज कर रहे हैं। बुनियादी नियमों का पालन करना सभी के लिए आवश्यक है फेस मास्क पहनना, सामाजिक दूरी बनाए रखना और प्रसार को रोकने के लिए हाथों की लगातार धुलाई करना जरूरी है।

Post a Comment

0 Comments