-->
yrDJooVjUUVjPPmgydgdYJNMEAXQXw13gYAIRnOQ
Bookmark

Paytm IPO बाजार में हलचल और निवेशकों के लिए मौका या खतरा

भारत में डिजिटल पेमेंट के क्षेत्र में Paytm की एक बड़ी IPO के बाद बाजार में हलचल मची थी। 2021 में लिस्ट होने के पश्चात्, इसका शेयर विशेषज्ञों की उम्मीदों के खिलाफ चला गया, जो आरंभिक दिनों में हुए गिरावट के कारण निवेशकों को चौंकाने वाला अनुभव कराया।कराया।

Paytm की IPO: बाजार में हलचल और निवेशकों के लिए मौका या खतरा?"

18 नवंबर 2021 को, जब इसका ओपनिंग प्राइस ₹1,955 था, बाजार बंद होने तक यह ₹1,164 पर आ गया, जिससे निवेशकों को बड़ा झटका मिला। इसका IPO प्राइस ₹10 के मुकाबले 27 फीसदी घटकर लिस्ट हुआ, जो निवेशकों को चिंतित कर दिया। 

इसके बावजूद, Paytm का शेयर अपने IPO प्राइस की बराबरी करने में नाकाम रहा, और फिलहाल भी यह उम्मीद दिखाई नहीं दे रहा कि यह शेयर इसके IPO प्राइस के आसपास पहुंच सकता है। आर्थिक आधार पर यह साबित हो रहा है कि निवेशकों के लिए यह एक नुकसान का कारण बन रहा है, जबकि कुछ लोगों के लिए यह एक मुनाफे का सुनहरा मौका हो सकता है। 

इस मौके का फायदा उठाने के लिए, मॉर्गन स्टैनले ने इसके शेयरों में 44 करोड़ रुपए में 0.8 प्रतिशत का हिस्सा खरीदा है, जो एक बड़ा संकेत है कि इस कंपनी के प्रति उनका विश्वास बना हुआ है। 

इसके अलावा, इस घड़ी में आरबीआई के फैसले ने पेटीएम के शेयर को 87.6 के स्तर पर बंद कर दिया है, जिससे शेयर पर लगातार दो दिनों से लोअर सर्किट लगा है। 

इस घड़ी में निवेश के लिए सावधानी बरतना महत्वपूर्ण है और निवेश से पहले एक वित्त सलाहकार से सलाह लेना सुनिश्चित करें। इसमें बाजार में हो रही घटनाओं और आरबीआई के फैसलों का मूल्यांकन करना भी महत्वपूर्ण है।

Post a Comment

Post a Comment