Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

FINANCE Story of stock exchange in india

भारत में स्टॉक एक्सचेंज की कहानी

स्टॉक एक्सचेंज एक ऐसी जगह है, जहां व्यापारी प्रतिभूतियों को खरीदते और बेचते हैं। स्टॉक एक्सचेंज अक्सर स्टॉक मार्केट का सबसे महत्वपूर्ण कंपोनेंट होता है। नियम-कानूनों का पालन करते हुए प्रतिभूतियों की नीलामी की जाती हैं।

भारत में प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE)

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) की स्थापना 1992 में हुई थी। सेबी ने इसे प्रतिभूति संविदा (विनियमन) अधिनियम, 1956 के तहत स्टॉक एक्सचेंज के रूप में मान्यता दी थी और इसके ऑपरेशन 1994 में शुरू हुए थे। विक्रम लिमये नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के एमडी और सीईओ हैं। यह पूरी तरह से कम्प्यूटराइज्ड इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग की सुविधा देने वाला भारत का पहला एक्सचेंज हैं। यह प्रौद्योगिकी और नवाचार में अग्रणी है और यह 3,000 से अधिक वीएसटी टर्मिनलों की सहयोग करता है, जो एनएसई को भारत में सबसे बड़ा निजी विस्तृत क्षेत्र नेटवर्क बनाता है।


बीएसई (BSE)

बीएसई को पहले बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के रूप में जाना जाता है, जिसकी स्थापना 9 जुलाई, 1875 को हुई थी। यह एशिया का पहला स्टॉक एक्सचेंज है। 1875 में, प्रख्यात व्यापारी प्रेमचंद रॉयचंद ने आधिकारिक तौर पर नेटिव शेयर एंड स्टॉक ब्रोकर्स एसोसिएशन की स्थापना की, बाद में इसका नाम बदलकर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज कर दिया गया, जो अब बीएसई हैं। यह 5 माइक्रोसेकंड की औसत व्यापार गति के साथ दुनिया का सबसे तेज एक्सचेंज भी है। बीएसई के एमडी और सीईओ आशीष कुमार चौहान हैं और लगभग 5000 कंपनियां एक्सचेंज में सूचीबद्ध हैं।

कोलकाता स्टॉक एक्सचेंज (CALCUTTA STOCK EXCHANGE)

कोलकाता स्टॉक एक्सचेंज (सीएसई) कोलकाता के ल्योंस रेंज में स्थित है। यह दक्षिण एशिया का दूसरा सबसे पुराना एक्सचेंज है। इसे 1908 में स्थापित किया गया था। हालांकि, सीएसई को बाजार नियामक सेबी से बाहर निकलने के लिए कहा गया है, लेकिन मामला कोलकाता हार्ड कोर्ट में लंबित हैं।


इंडिया इंटरनेशनल एक्सचेंज (INDIA INTERNATIONAL EXCHANGE)

इंडिया इंटरनेशनल एक्सचेंज (आईएनएक्स) भारत का पहला अंतर्राष्ट्रीय स्टॉक एक्सचेंज है। यह गुजरात में अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र (IFSD), गिफ्ट सिटी में स्थित है। यह बीजेपी की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है। 9 जनवरी, 2017 को इसका उद्घाटन किया गया था, जबकि इसका व्यापार संचालन 15 जनवरी, 2017 से शुरू किया गया था। आईएनएक्स दिन में 22 घंटे और सप्ताह में 5 दिन संचालित होता है।


स्टॉक मार्केट्स का विनियमन (SECURITIES AND EXCHANGE BOARD OF INDIA)

भारत में शेयर बाजारों का विनियमन और पर्यवेक्षण सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (सेबी) के पास है। 1992 के सेबी अधिनियम के तहत सेबी को एक स्वतंत्र पहचान के रूप में गठित किया गया था। इसके पास तमाम स्टॉक एक्सचेंज का निरीक्षण करने की शक्ति है। प्रशासनिक नियंत्रण के पहलुओं के साथ बाजार और संगठनात्मक संरचना के संचालन की समीक्षा करते हैं।

सेबी की भूमिका (SECURITIES AND EXCHANGE BOARD OF INDIA)

- निवेशकों के विकास के लिए उचित और न्यायसंगत बाजार सुनिश्चित करना।

- विनिमय संगठन का अनुपालन, इसकी प्रथाओं को विनियमन अधिनियम, 1956 के तहत तय नियमों के अनुसार करती है।

- सेबी दिशा-निर्देशों और उनके कार्यान्वयन सुनिश्चित करती है।

Post a Comment

0 Comments