Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

कितनी गर्म होंगी 02021 की गर्मियां ?

 कुछ दक्षिणी राज्यों को छोड़कर, भारत में गर्मी इस साल सामान्य से अधिक रहने की उम्मीद है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने मार्च से मई 2021 तक आधिकारिक तौर पर भारत में गर्मी के मौसम की शुरुआत की घोषणा की है। अधिक जानने के लिए पढ़े

क्या है समर सीजन 2021 का पूर्वानुमान?

सामान्य से ऊपर रहेगा अधिकतम तापमान

उत्तर, उत्तर-पश्चिम और उत्तर-पूर्व भारत में मौसम विभाग के अधिकांश सब-डिवीजन ऑफिसों के मुताबिक मार्च, अप्रैल और मई के दौरान अधिकतम तापमान (मौसमी) सामान्य से ऊपर रह सकता है।


सामान्य न्यूनतम तापमान

हिमालय, उत्तरपूर्वी और दक्षिणी राज्यों की तलहटी के इलाकों में मार्च, अप्रैल और मई के दौरान न्यूनतम तापमान सामान्य से ऊपर रह सकता है।


इस वर्ष किन क्षेत्रों में गर्म मौसम का अनुभव होने की संभावना है?

अधिकतम तापमान सामान्य से ऊपर

छत्तीसगढ़, ओडिशा, गुजरात, तटीय महाराष्ट्र, गोवा और तटीय आंध्र प्रदेश में आने वाले दिनों में अधिकतम तापमान में वृद्धि देखने को मिल सकती है।


सामान्य तापमान से ऊपर

पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, ईस्ट यूपी, वेस्ट यूपी, छत्तीसगढ़, झारखंड से लेकर ओडिशा तक का तापमान मार्च से मई के दौरान सामान्य से 0.5 डिग्री सेल्सियस अधिक रहने की संभावना है।


दक्षिण भारत में राहत

दक्षिण भारत के कुछ हिस्सों, दक्षिण प्रायद्वीप और उससे सटे मध्य भारत के अधिकांश उपखंडों में अधिकतम तापमान सामान्य से नीचे हो सकता है।

मध्य भारत के पूर्वी हिस्से और देश के अत्यंत उत्तरी हिस्सों के कुछ सब-डिवीजन में सामान्य तापमान में गिरावट दर्ज की जाएगी।


पूर्वानुमान का आधार

आईएमडी ने यह पूर्वानुमान फरवरी की प्रारंभिक मौसम स्थितियों के आधार पर जारी किया हैं, जिसके लिए वह 2003-2018 के बीच सालाना जारी किए गए अपने पिछली गर्मियों के पूर्वानुमानों के संदर्भ का उपयोग कर रहा है। अप्रैल में आईएमडी अप्रैल से जून तक के महीनों के लिए एक नया वैदर फोरकास्ट जारी करेगा।

Post a Comment

0 Comments